Ayurvedic Treatment of Under Eye Circle अंडर आई सर्कल के आयुर्वेदिक उपचार

Ayurvedic Treatment of Under Eye Circle

There can be many reasons for having a dark circle. Knowing these causes will help them to escape and thus will protect the face from these uneven spots. The circles are formed under the eyes. They are black spots that encircle the eyes and thus spoil the appearance of the face. They are also known as the circle of eyes and sometimes referred to as slang in the form of a bag under the eyes.

Eye Vision-Netra Jyoti
Eye Vision-Netra Jyoti

These are the reasons:

  1. Lack of sleep
  2. Excessive fatigue
  3. Inappropriate diet and nutrition
  4. Stress
  5. Hormonal problems
  6. Advancing age
  7. Hyper-pigmentation of the skin
  8. Coming to heat and sun exposure
  9. Excessive consumption of certain drugs

According to Ayurveda, dark circles are due to vata and pitta defects. These are the elements that control the air and fire elements in the human body, respectively. It has been found that yoga is very beneficial in reducing dark circles. Pranayama and respiration help in relieving the mind. Such asanas are set for people with dark circles.

 

Once the black circles are visible, it is very difficult to get rid of them. There are many cosmetic creams in the market that claim to eliminate the dark circles, but the dark circles can be removed only by a healthy lifestyle. There are some ways that dark circles can be reduced. These methods have been mentioned in this article.

 

Useful Herbs / Plants in the Treatment of Dark Circles

  1. Apple (Malus Domestica)

Apple has tannin that helps reduce the dark circles. In addition, apples contain potassium and water-soluble vitamins B and C, which can compensate for lost nutrients in the skin under the eyes.

 

  1. Cucumber (cucumber twenty-seven)

Cucumber is a very cold vegetable. For this reason it is widely used as a treatment for the eye circles. The cold juice of cucumber helps to relieve tears, which in some days dark circles disappear.

 

  1. Potato (Solanum tuberosum)

Potato starch content helps in the treatment of dark circles. Potato peels and thin slices can be placed on the eyes to get good results.

 

  1. Daily (Rosa cordifolia)

Any other treatment for dark circles is not as common as rose petals, which are known as rose water or rose water. Gulab water soaks the eyes and removes their redness. It also rejuvenates the skin around the eyes. It reduces the circle of eyes. If used continuously for a few weeks, the rose water can completely eliminate the dark circles.

 

Diet Treatment for Dark Circles

If you want to get rid of your dark circles then keep your diet very healthy. Many Ayurvedic doctors will agree that the primary treatment of the dark circles starts with correcting the diet. The diet should not be very dry. Use lots of water in the preparation of dishes such as gravies, daals, soup, etc. To reduce the vata, cook your food in a little fat. Drink plenty of water throughout the day. Apart from this, eat fresh fruits which have high amount of water.

 

There are two steps in Ayurveda’s remedy for the Dark Circle.

 

Body poisoning

Reincarnation of skin

The dark circles under the eyes are often formed due to accumulation of toxic substances in the body. Ayurvedic body cleansers (herbal body cleansers) take out these toxins and purify the blood. Herbal under eye gel, when applied superficially, improves skin texture and rejuvenates skin. Herbal under the eyes of the eye also reduces the wrinkles under the eyes and nourishes and tones the delicate skin around the eyes.

 

अंडर आई सर्कल के आयुर्वेदिक उपचार

 

डार्क सर्कल होने के कई कारण हो सकते हैं। इन कारणों को जानने से उन्हें बचने में मदद मिलेगी और इस प्रकार ये असमान धब्बों से चेहरे की रक्षा करेंगे। आंखों के नीचे सर्कल बनते हैं। वे काले धब्बे हैं जो आंखों को घेरते हैं और इस प्रकार चेहरे की उपस्थिति को खराब करते हैं। उन्हें आँखों के घेरे के रूप में भी जाना जाता है और कभी-कभी आँखों के नीचे बैग के रूप में स्लैंग के रूप में जाना जाता है।

ये कारण हैं:

  1. नींद की कमी
  2. अत्यधिक थकान
  3. अनुचित आहार और पोषण
  4. तनाव
  5. हार्मोनल समस्याएं
  6. उम्र को आगे बढ़ाना
  7. त्वचा का हाइपर-पिग्मेंटेशन
  8. गर्मी और धूप के संपर्क में आना
  9. कुछ दवाओं का अत्यधिक सेवन

 

आयुर्वेद के अनुसार, काले घेरे वात और पित्त दोष के कारण होते हैं। ये वे तत्व हैं जो क्रमशः मानव शरीर में वायु और अग्नि तत्वों को नियंत्रित करते हैं। यह पाया गया है कि काले घेरे को कम करने में योग बहुत फायदेमंद है। प्राणायाम और श्वसन मन को शांत करने में मदद करते हैं। ऐसे आसन काले घेरे वाले लोगों के लिए निर्धारित हैं।

एक बार जब काले घेरे दिखाई देते हैं, तो उनसे छुटकारा पाना बहुत मुश्किल होता है। बाजार में कई कॉस्मेटिक क्रीम हैं जो काले घेरे को खत्म करने का दावा करते हैं, लेकिन स्वस्थ जीवनशैली से ही काले घेरे को हटाया जा सकता है। कुछ तरीके हैं जिनसे डार्क सर्कल्स को कम किया जा सकता है। इस लेख में इन विधियों का उल्लेख किया गया है।

 

डार्क सर्कल्स के उपचार में उपयोगी जड़ी बूटी / पौधे

  1. Apple (मालुस डोमेस्टिका)

सेब में टैनिन होता है जो काले घेरे को कम करने में मदद करता है। इसके अलावा, सेब में पोटेशियम और पानी में घुलनशील विटामिन बी और सी होते हैं, जो आंखों के नीचे की त्वचा में खोए पोषक तत्वों की भरपाई कर सकते हैं।

  1. ककड़ी (ककड़ी सत्ताईस)

खीरा एक बहुत ही ठंडी सब्जी है। इस कारण से यह व्यापक रूप से आंख के हलकों के लिए एक उपचार के रूप में उपयोग किया जाता है। खीरे का ठंडा रस आँसुओं को राहत देने में मदद करता है, जो कुछ दिनों में काले घेरे गायब हो जाते हैं।

  1. आलू (सोलनम ट्यूबरोसम)

आलू स्टार्च सामग्री काले घेरे के उपचार में मदद करता है। अच्छे परिणाम पाने के लिए आलू के छिलके और पतली स्लाइस को आंखों पर रखा जा सकता है।

  1. दैनिक (रोजा कॉर्डिफोलिया)

काले घेरे के लिए कोई अन्य उपचार गुलाब की पंखुड़ियों के रूप में आम नहीं है, जिन्हें गुलाब जल या गुलाब जल के रूप में जाना जाता है। गुलाब जल आंखों को भिगोता है और उनकी लालिमा को दूर करता है। यह आंखों के आसपास की त्वचा को भी फिर से जीवंत करता है। यह आँखों के घेरे को कम करता है। यदि कुछ हफ्तों तक लगातार उपयोग किया जाता है, तो गुलाब जल पूरी तरह से काले घेरे को खत्म कर सकता है।

 

डार्क सर्कल्स के लिए आहार उपचार

अगर आप अपने काले घेरों से छुटकारा पाना चाहते हैं तो अपने आहार को बहुत स्वस्थ रखें। कई आयुर्वेदिक डॉक्टर इस बात से सहमत होंगे कि काले घेरे का प्राथमिक उपचार आहार को सही करने से शुरू होता है। आहार बहुत सूखा नहीं होना चाहिए। ग्रेवी, दाल, सूप आदि जैसे व्यंजन बनाने में बहुत सारे पानी का उपयोग करें। वात को कम करने के लिए, अपने भोजन को थोड़ा वसा में पकाएं। दिनभर में खूब पानी पिएं। इसके अलावा, ताजे फल खाएं जिनमें पानी की मात्रा अधिक होती है।

 

डार्क सर्कल के लिए आयुर्वेद के उपाय में दो चरण हैं।

शरीर की विषाक्तता

त्वचा का पुनर्जन्म

आंखों के नीचे काले घेरे अक्सर शरीर में विषाक्त पदार्थों के संचय के कारण बनते हैं। आयुर्वेदिक बॉडी क्लीन्ज़र (हर्बल बॉडी क्लीन्ज़र) इन विषाक्त पदार्थों को बाहर निकालते हैं और रक्त को शुद्ध करते हैं। नेत्र जेल के तहत हर्बल, जब सतही रूप से लागू किया जाता है, त्वचा की बनावट में सुधार होता है और त्वचा को फिर से जीवंत करता है। आंखों की आंखों के नीचे का हर्बल भी आंखों के नीचे की झुर्रियों को कम करता है और आंखों के आसपास की नाजुक त्वचा को पोषण और टोन करता है।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*