Herbal things are extremely beneficial for tastes and health. हर्बल चीजें स्वाद और सेहत के लिए बेहद फायदेमंद होती हैं

हर्बल चीजें स्वाद और सेहत के लिए बेहद फायदेमंद होती हैं

हर्बल चीजें वाकई सेहत के लिए बेहद फायदेमंद हैं। सर्दियों में इन्हें भोजन में शामिल करने से काफी लाभ मिलता है। अकरकरा, सौंठ, कायफल और इस तरह की कुछ और चीजों के सेहतभरे फायदों के बारे में जानते हैं –

अकरकरा से दांत मजबूत होते हैं – 

अकरकरा के उपयोग से दांतदर्द, सूजन, मसूढ़ों की पीड़ा मिटती है और दांत मजबूत होते हैं। इसका प्रयोग दंतमंजनों और पेस्ट में होता है। तुतलाहट की चिकित्सा में भी यह असरकारक है। ये पाचक और रुचिवर्धक होता है। अकरकरा सामूहिक और राजसी दावतों की दाल, कढ़ी, मसाला बाटियों, गट्टा और पुलाव, कबूली के लिए जरूरी है।

You may read – बच्चों में उल्टा सीधा खाने से मोटापा बढ़ता है।

कालीमिर्च भूख खोलती है – 

Kali Mirch-Benefits of Black Pepper
Kali Mirch-Benefits of Black Pepper

कालीमिर्च का अचार व मुरब्बा भी बनाया जाता है। कालीमिर्च को गाय के दही में घिसकर आंखों में लगाने से रतौंधी मिटती है। नेत्र ज्योति बढ़ाने, मोटापा कम करने, पेट के रोग, सभी तरह के बुखार में इसका विशेष प्रयोग होता है। यह भूख खोलती है।  कालीमिर्च चूर्ण व शहद चाटने से सर्दी, खांसी में लाभ होता है। दही गुड़ और काली मिर्च के मिश्रण से नकसीर मिटती है। दही, पुराना गुड़, और कालीमिर्च पुराना जुकाम मिटाते हैं।

कायफल मांसपेशियों के दर्द में लाभदायक है

ये वायु, पित्त, कफ तीनों दोषों से उत्पन्न श्वास, ज्वर, जुकाम, मूत्र रोग जीर्ण, अतिसार, बवासीर, बड़ी आंत की सूजन और एनिमिया में उपयोगी है। यह गर्म तासीर वाला,कड़वा, कसैला और चरपरा होता है। गाय के घी में कायफल का हलवा पुराने सिरदर्द में प्रयोग करते हैं। कायफल तिल के तेल में पकाकर बनाया तेल जोड़ों और मांसपेशियों के दर्द में लाभदायक है।

You may read – पीरियड्स में कुछ सकारात्मक गुण भी छिपे हैं

 चित्रक का लेप करने से दागधब्बे मिटते हैं

चित्रक चूर्ण ग्वारपाठे के गूदे पर रखकर खाने से बढ़ी हुई तिल्ली ठीक होती है। दूध या जल के साथ घिसकर लेप करने से दागधब्बे मिटते हैं। स्वाद व पाचन में चरपरी, हल्की, बहुत गर्म तासीर वाली रुचिवर्धक, वायु, आंतों व गुदा की सूजन, मोटापा कम करने वाली, दीपन, पाचन, बवासीर, पेटदर्द संग्रहणी, कमिृ व पीलिया में लाभदायक है।

जायफल दस्त जुकाम, खांसी होने  पर चटाया जाता है

बच्चों को दस्त व जुकाम, खांसी होने पर जायफल को गर्म पानी में घिसकर चटाया जाता है। भोजन में स्वाद व खुशबू के लिए डाला जाता है। श्वास रोग में पान में दो-तीन पंखुड़ी जावित्री डालकर, बहुमूत्र में जावित्री व मिश्री दूध में डालकर, दस्त में छाछ में डालकर, गठिया में सोंठ व जावित्री मिश्रण गर्म पानी से लेने पर लाभ होता है। मुंहासों पर कच्चे दूध में घिसकर लगाते हैं। कफ और वायु के रोगों, अतिसार, पेचिश व संग्रहणी में खाया जाता है। इसके फूल जावित्री कहलाते हैं।

You may read – काली मिर्च कई बीमारियों में लाभकारी है

तेजपत्ता सिर भारी होने लेप करें 

सिरदर्द में तीन तेजपत्ते डंठल सहित गर्म पानी में पीसकर सिर पर दो घंटे के लिए लेप करें। वायु, कफ नाशक, भोजन में रुचि और स्वाद बढ़ाने वाले ये पत्ते हर घर में दाल, सब्जी, पुलाव आदि में छौंक में प्रयोग किए जाते हैं। जुकाम में, छींके आने और सिर भारी होने, स्वाद खत्म होने पर पांच-पांच ग्राम तेजपत्ता चूर्ण बनाकर चाय की तरह दूध और चीनी में उबालकर पीएं।

दालचीनी पाचन रोग दूर करती है – 

खाने के बाद आधा चम्मच चूर्ण लेने से शुगर नियंत्रण में रहती है। दालचीनी की छाल पतली, गुलाबी,  चरपरी, तेलयुक्त है। ये गर्म, हल्की, वायुनाशक,पित्त बढ़ाने वाली, कफ, वायु, विष प्रभाव, चर्मरोग, ह्दय रोग कृमिरोग, जुकाम, बवासीर, पाचन रोग दूर करती है।

You may read –  क्या आप अपनी लंबाई बढ़ाना चाहते हैं ?

लौंग सिरदर्द हिचकी में लाभदायक है

गले की सूजन, खांसी, नजला, जुकाम, एसिडिटी, अजीर्ण, सिरदर्द, हिचकी में लाभदायक है। ये चरपरी ठंडी व कड़वी होती है। ये मुंह की बदबू, डकार, वमन में उपयोगी है। दांत दर्द में ये विशेष गुणकारी है।

सोंठ अतिसार ह्दयरोग उदररोग नाशक है

। सूखी अदरक सोंठ होती है। ये रुचिकारक, गठिया नाशक, त्रिदोष नाशक, पाचक, स्वादिष्ट, गर्म, अतिसार ह्दयरोग उदररोग नाशक है। कच्ची अदरक चटनी, मुरब्बा, अचार के रूप में, सब्जी-दाल में सुगंध स्वाद व पाचन बढ़ाने के लिए डाली जाती है। अदरक की चाय से सर्दी, जुकाम, खांसी, सिरदर्द, ठीक होता है

You may read – Develop Good Habits In The Twentieth Of The Ages

Herbal things are extremely beneficial for tastes and health

Herbal things are really beneficial for health. Adding them to food in winter brings great benefits. Know about the benefits of different types of acne, neutral, keff and some other things like this –

Teeth strongs from Akarkara – 

Akarkara
Akarkara

The use of acetic acid helps toothache, swelling, gums, and teeth are strong. It is used in dental and paste. It is also effective in the treatment of tilahat. This is digestive and interesting. Aakarka is essential for collective and majestic banana pulses, curry, spices, gatta and casserole, cloves.

You may read – Do you have diabetes associated with these myths?

Black pepper opens up hunger
Pickles and marmalade of black pepper are also made. Black pepper gets rubbed out in the cow’s curd and it is done by applying eye-candy in the eyes. This is a special use in eyebrow flare, obesity, stomach disorders, all types of fever. It opens up hunger. Lick of black pepper powder and honey, there is benefit in cold, cough. Nutmeg fumes with a mixture of curd, jaggery and black pepper. Yogurt, old jaggery, and black pepper eliminate old cold.

Keyiflu is beneficial in muscle pain – 

Kaiphal-Kayphal
Kaiphal-Kayphal

It is useful in air, gall, phlegm, phlegm, colds, urinary tract, diarrhea, hemorrhoids, inflammation of the large intestine and anemia caused by all three defects. It is hot-headed, bitter, astringent, and grapefruit. In cow’s ghee, kayfula pudding is used in the old headache. The cooked oil cooked in kayfil sesame oil is beneficial in joint and muscular pain.

You may read – You can only be healthy by smelling them|

Damping the painting from Chitrak – 

Chitraka
Chitraka

Placed on the pulp of powdered cowpea, it enhances the growth of the spleen. Rubbed with milk or water, the scotch erases. Taste and digestion in taste, light, very hot stimulant, beneficial in inflammation of the air, intestines and anus, obesity, diapneum, digestion, hemorrhoids, abdominal dysfunction, caffeine and jaundice.

Nutmeg is used for diarrhea and colds, cough –  

Nutmeg-Jayphal
Nutmeg-Jayphal

Nutmeg is thrown in hot water after the children are diagnosed with diarrhea and colds, cough. The food is inserted for taste and aroma. In breathing disease, by adding two-three petal javitri in the pan, adding gravy and mishri milk in a small quantity, putting in the stomach in the stomach, it is beneficial to take gout and stem and gastri mixture with hot water. On the acne, we rub in raw milk. Cough and air is eaten in diseases, diarrhea, dysentery and collection. Its flowers are called javittiri.

You may read – Cabbage Leaf Can Reduce Your Weight By Eating

Apply the Tejpatta on Head – 

Tejpatta-Indian Bay Leaf
Tejpatta-Indian Bay Leaf

In the headache, three teaspoons, grind them in warm water, including stalks, and apply them on the head for two hours. These leaves, which are air, puffed up, interested in food and flavor enhancers, are used in Chhonk in every home of lentils, vegetables, casserole etc. In the cold, sneezing and heavy head, make five to five grams of Tejpatta powders after drinking the tea and boil it like tea and boil in sugar and sugar.

Cinnamon removes digestive diseases – 

Cinnamon Aroma-Dalchini Ki Sugandh
Cinnamon Aroma-Dalchini Ki Sugandh

After eating half a tablespoon of powders, the sugar remains in control. The cinnamon bark is thin, pink, grapefruit, oily. It removes hot, light, pneumatic, bile enhancer, cough, air, toxicity, skin disease, heart disease, pneumonia, colds, hemorrhoids, digestive tract.

Clove is beneficial in headaches and hiccups – 

Laung-Clove
Laung-Clove

Throat swelling, cough, nausea, colds, acidity, indigestion, headache, hiccup is beneficial. These whales are cold and bitter. It is useful in stomach aches, pains, vomiting. This is particularly useful in toothache.

Hysterectomy Diarrhea is Heart Disease- 
Dry ginger is dry. These are gourmet, rheumatoid arthritis, diarrhea, digestive, tasty, hot, diarrhea, cardiovascular disease. In the form of raw ginger chutney, marmalade, pickle, vegetable-pulses are added to enhance flavor and digestion. Ginger tea, colds, colds, coughs, headache, is okay.

Heart Disease
Heart Disease

You may read – It is good to take care of food in eating and drinking!

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*